Ethos IPO में आज से निवेश का मौका, 878 रु का है शेयर, क्या 472 करोड़ के इश्यू में लगाएं दांव

Ethos IPO में आज से निवेश का मौका, 878 रु का है शेयर, क्या 472 करोड़ के इश्यू में लगाएं दांव

Ethos आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 836-878 रुपये प्रति शेयर है. इस इश्यू में 35 फीसदी खुदरा निवेशकों के लिए आरक्षित किया गया है।

Ethos IPO

Ethos IPO Open Today: घड़ियों के लग्जरी ब्रॉन्ड एथोस (Ethos) का आईपीओ (IPO) आज यानी 18 मई को सब्सक्रिप्शन के लिए खुल रहा है यह 18 मई से 20 मई तक निवेश के लिए खुला रहेगा। इस आईपीओ के लिए कंपनी ने रुपये का प्राइस बैंड तय किया है। 836-878 प्रति शेयर। वहीं, कंपनी ने इसके जरिए 472 करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है। आईपीओ के तहत 375 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। वहीं, ऑफर फॉर सेल (OFS) के जरिए 1,108,037 इक्विटी शेयरों की बिक्री की जाएगी। 17 मई को बाजार की उथल-पुथल में एलआईसी की लिस्टिंग कमजोर हुई है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्या मौजूदा माहौल में एथोस के इश्यू में पैसा लगाया जाए।

 

एंकर बुक से जुटाए 142 करोड़

Ethos का आईपीओ 17 मई को एंकर निवेशकों के लिए खुला था। कंपनी ने एंकर बुक से करीब 142 करोड़ रुपये जुटाए हैं। कंपनी ने एंकर निवेशकों को 878 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से 1613725 इक्विटी शेयर जारी किए हैं।

सब्सक्राइब करें या नहीं

ब्रोकरेज हाउस आनंद राठी ने इस इश्यू को सब्सक्राइब करने की सलाह दी है। ब्रोकरेज का कहना है कि अगर हम 878 रुपये के ऊपरी मूल्य बैंड को देखें, तो स्टॉक का मूल्यांकन 285x FY21 P/E और 55x FY21 EV/EBITDA पर है। कंपनी का मार्केट शेयर लगातार बढ़ रहा है। हालांकि वित्त वर्ष FY21 में राजस्व में कमी आई है, लेकिन ऐसा कोविड 19 के कारण हुआ है। कंपनी को अ यूनिक ब्रॉन्ड पार्टनरशिप का लाभ मिलेगा। हालाँकि, कुछ चिंताएँ भी हैं, जैसे कि मसलन विवेकाधीन खर्च  में कमी, COVID-19 या भविष्य में इस तरह की महामारी और इसके अधिकांश आपूर्तिकर्ता गैर-अनन्य हैं।

IPO के बारे में

आईपीओ का प्राइस बैंड 836-878 रुपये प्रति शेयर है। Ethos की आईपीओ से 472.3 करोड़ रुपये जुटाने की प्लान है। आईपीओ से प्राप्त धनराशि का उपयोग कर्ज चुकाने, कार्यशील पूंजी आवश्यकताओं, नए स्टोर खोलने और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों के लिए किया जाएगा। बहुत सारे 17 शेयर हैं। आईपीओ के तहत 375 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी किए जाएंगे। 1,108,037 इक्विटी शेयरों का ओएफएस है।

 

किसके लिए कितना रिजर्व

इस इश्यू में 50 फीसदी हिस्सा क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए रिजर्व है. 35 फीसदी रिटेल इन्वेस्टर्स के लिए रिजर्व किया गया है. जबकि शेष 15 फीसदी हिस्सा नॉन-इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर्स के लिए रिजर्व होगा. एमके ग्लोबल फाइनेंशियल सर्विसेज और इनक्रेड कैपिटल वेल्थ पोर्टफोलियो मैनेजर्स इश्यू के बुक रनिंग लीड मैनेजर हैं. कंपनी के इक्विटी शेयर बीएसई और एनएसई पर लिस्ट होंगे.

 

कंपनी का फाइनेंशियल

वित्त वर्ष 2021 में ऑपरेशन्स से कंपनी का रेवेन्यू 386.57 करोड़ रुपये रहा थ. जबकि नेट प्रॉफिट 5.78 करोड़ रुपये था. भारत में लग्जरी और प्रीमियम वॉच रिटेल सेगमेंट में कंपनी की अच्छी बाजार हिस्सेदारी है. कंपनी के मल्टी-स्टोर फॉर्मेट में भारत के 17 शहरों में 50 फिजिकल रिटेल स्टोर हैं. यह अपने प्रोडक्ट्स वेबसाइट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के माध्यम से ग्राहकों को बेचती है.

 

कंपनी के पोर्टफोलियो में 50 प्रीमियम व लग्जरी वॉच ब्रॉन्ड जैसे ओमेगा, IWC Schaffhausen, Jaeger LeCoultre, Panerai, Bvlgari, H. Moser & Cie, Rado, Longines, Baume & Mercier, Oris SA, Corum, Carl F Bucherer, Tissot, Raymond Weil, Louis Moinet और Balmain शामिल हैं. References

 

(Disclaimer: स्टॉक में निवेश की सलाह ब्रोकरेज हाउस के द्वारा दी गई है. यह फाइनेंशियल एक्सप्रेस के निजी विचार नहीं हैं. बाजार में जोखिम होते हैं, इसलिए निवेश के पहले एक्सपर्ट की राय लें.) 

Tags:

Add a Comment

Your email address will not be published.